The latest missiles of India | भारत की महत्वपूर्ण मिसाइलें |

भारत की नवीनतम मिसाइलें.

Academic Hub
image source : -en.wikipedia.org
  • हाल के दिनों में भारत ने अपने कई मिसाइलों के नवीनतम वर्ज़न के सफ़ल परीक्षण किये हैं।

1. एंटी टैंक गाइडेड मिसाइल ‘ हेलिना ‘

Helina missile
image source : forceindia.net

>  स्वदेशी हेलीकॉप्टर एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल ‘ हेलिना ‘ सबसे एडवांस एंटी-टैंक सिस्टम है जिसने 19 अगस्त 2018 को पोखरण में सेना हेलीकॉप्टर से सफ़लतापूर्वक उड़ान भरी। यह प्रणाली दुनिया में सबसे उन्नत एंटी-टैंक हथियारों में से एक है जिसका पूरी रेंज तक परीक्षण किया जा चूका है। ‘ हेलिना ‘ रक्षा शोध एवं विकास संगठन ( DRDO ) द्वारा विकसित किया गया है। ‘ हेलिना ‘ मिसाइल नाग मिसाइल का हेलीकॉप्टर लॉन्च वर्ज़न है और इसकी रेंज 7 से 8 किमी है। हेलिना मिसाइल ज़मीनी लक्ष्यों को सटीकता से तबाह करने में सक्षम है तथा रात में भी अपने लक्ष्य को साध सकती है।

2. BVR ( बियॉन्ड-विसुअल-रेंज मिसाइल ) 

BVR Air-to-Air Missile
image source : www.airforce-technology.com

यह एक एयर-टू-एयर मिसाइल है जो हवा में तक़रीबन 37 किमी तक के निशाने को साधने तथा तबाह करने में सक्षम है। यह मिसाइल दृश्य सीमा से परे जा कर 37 किमी के रेंज तक में अपने निशाने को  ढूंढ़कर मारने में सक्षम है। इसे डीआरडीओ  ( DRDO ) द्वारा स्वदेशी विकसित किया है जो 26 सितम्बर 2018 को सु-30 ( SU-30 ) विमान से भारतीय वायुसेना द्वारा सफ़लतापूर्वक परीक्षण किया गया।

BVR Air-to-Air एक्स्ट्रा हथियारों में सबसे अच्छा है और बीस से अधिक परीक्षणों के तहत सफ़ल साबित हुआ है।


3. पृथ्वी इंटरसेप्टर मिसाइल 

Academic Hub
image source : indino.in

> यह स्वदेशी, दो परत वाली बैलिस्टिक मिसाइल रक्षा प्रणाली ( एंटी-बैलिस्टिक मिसाइल ) है, जो दुश्मनों द्वारा घात के लिए भेजे किसी बैलिस्टिक मिसाइल को वायुमंडल में ही ध्वस्त करने में सक्षम है। पृथ्वी इंटरसेप्टर का सफ़ल परीक्षण 23 सितम्बर 2018 को अब्दुल कलाम द्वीप ओडिशा से किया गया।

4. शार्ट-रेंज बैलिस्टिक मिसाइल 

Academic Hub
image source : pib.nic.in

> भारत की पहली बैलिस्टिक मिसाइल पनडुब्बी के रूप में इसका परीक्षण  आईएनएस अरिहंत ने पहली बार के- 15 ( बी- 05 )  शार्ट-रेंज बैलिस्टिक मिसाइलों को विशाखापट्नम तट से 12 अगस्त 2018 को लॉन्च  किया गया।

5. अग्नि- V ( Agni-V )

Academic Hub

> अग्नि – V एक इंटरकॉन्टिनेंटल ( अंतरमहाद्वीपीय ) बैलिस्टिक मिसाइल है जिसे डिफेन्स रिसर्च एंड डेवेलपमेंट आर्गेनाइजेशन (DRDO) द्वारा विकसित किया गया है। अग्नि-V, अग्नि सीरीज़ का सबसे उन्नत भाग है जिसने डॉ ए.पी.जे. अब्दुल कलाम द्वीप से 3 जून 2018 को सफ़लतापूर्वक उड़ान भरी। अग्नि-V की रेंज 5,500 से 5,800 किमी तक है और इसकी ज़द में पूरा पाक़िस्तान तथा चीन भी आता है। 


6. मैन-पोर्टेबल एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल 

 

Academic hub
image source : pib.nic.in

> 15 और 16 सितम्बर 2018 को महाराष्ट्र के अहमदनगर टेस्ट रेंज दे DRDO ने मैन-पोर्टेबल एंटी-टैंक गाइडेड मिसाइल का सफ़ल परीक्षण किया। इस मिसाइल को विभिन्न श्रेणियों के लिए अधिकतम सीमा क्षमता सहित 2 परीक्षण किये गए। यह मिसाइल दुश्मनों के टैंकों को निशाना बनाकर उन्हें ध्वस्त करने में सक्षम है। 


6. ब्रम्होस 

Academic Hub
image source : drdo.gov.in

>  ब्रम्होस एक मध्ययम रेंज प्रकार का सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल  ( Supersonic Cruise Missile ) है जिसे जहाज़, एयरक्राफ्ट, सबमरीन, और धरती से लॉन्च किया जा सकता है। यह दुनिया की सबसे तेज़ मिसाइल है। ब्रम्होस को भारत तथा रूस द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है। इसका ‘ ब्रम्होस ‘ नाम, भारत के ब्रह्मपुत्र नदी और रूस के मॉस्क्वा नदी, के नामांश से मिला है।

हाल में डीआरडीओ ने 16 जुलाई 2018 को एकीकृत मौसम रेंज ( आईटीआर ) से ब्रम्होस सुपरसोनिक क्रूज मिसाइल की फ्लाइट एक्सटेंशन टेस्ट के रूप में सफ़लतापूर्वक फायरिंग की।

1 COMMENT

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here